Image

आपने Lab Technician के बारे जरूर सुना होगा। जिनका काम लेब से जुड़े सभी कार्यो को करना होता है। आज हम आपको इस लेख में लैब टेक्नीशियन से जुड़े सभी कार्यो के बारे में बताने वाले है कि लैब टेक्नीशियन कोर्स क्या है Lab Technician Course Kya Hai और आप लैब टेक्नीशियन के क्षेत्र में किस प्रकार अपना करियर बना सकते है। या फिर मेडिकल लैब टेक्नीशियन कैसे बने Medical Lab Technician Kaise Bane

इस लेख में हम आपको यह भी बतायेँगे कि लैब टेक्निशयन के क्षेत्र में करियर कैसे बनाये Lab Technician Me career Kaise Banaye अगर आप भी इस क्षेत्र के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो इस लेख को पूरा पढ़े 

मेडिकल लैब टेक्नीशियन कैसे बने ? Medical Lab Technician Kaise Bane

नमूनों के आधार पर जाँच का विश्लेषण करने का काम पैथोलॉजिस्ट या फिर लेब टेक्नोलॉजिस्ट के द्वारा ही किया जाता है। Lab Technician जाँच करने के बाद कुछ सेम्पलों को अगर आगे की जाँच करने या फिर जरूरत के अनुसार उन्हें किसी सुरक्षित स्थान पर भी रख सकता है। इसलिए हम कह सकते है कि लेब टेक्नीशियन ऍमअलटी का काम बड़ी ज़िम्मेदारी भरा होता है।

उसे  सभी सेम्पलों का रख रखाव भी बड़ी सावधनीपूर्वक करना होता है, ताकि सेम्पलों की आपस में अदला बदली न हो जाये। जिससे दुसरो की रिपोर्ट किसी और के पास चली जाये इस काम में धैर्य और निपुणता बहुत ही आवश्यक है।

हमेशा मेडिकल लेब टेक्नीशियन (Medical Lab Technician )डॉक्टरों के निर्देशों पर ही कार्य करते है। उनके ज़िम्मे लेब से जुड़े अनेक कार्य होते है, जैसे कि लेब से जुड़े उपकरणों की देख रेख करना , नमूनों की जाँच और विश्लेषण में काम आने वाला घोल भी लेब टेक्नीशियन के द्वारा ही तैयार किया जाता है। लेब टेक्नीशियन को मेडिकल साइंस के साथ साथ लेबॉरेटरी से जुड़े सुरक्षा नियमों के बारे में भी अच्छा ज्ञान होना चाहिए।

लेब टेक्नीशियन का मुख्य काम नमूनों के आधार पर जांच करने का होता है। परन्तु वे इन जाँच के परीक्षण और विश्लेषण के लिए प्रशिक्षित नहीं होते है | इन नमूनों के परिणामों का विश्लेषण पैथोलॉजिट या लेब टेक्नोजिस्ट के द्वारा ही किया जाता है। जांच के लिए रखे गए सैंपलों की सही तरीके से देखरेख करने का काम भी लेब टेक्नीशियन Lab Technician के द्वारा ही किया जाता है।

दरअसल Medical Lab Technician किसी बीमारी की रोकथाम करने के लिए फिजिशियन की मदद करते हैं. लैब टेक्नीशियन बीमारी की जांच करने से लेकर उसके इलाज तक में सहायता करते है। मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजिस्ट (MLT) बॉडी फ्लूड्स, टीसू, ब्लड टाइपिंग, माइक्रो ऑर्गेनिज्म स्क्रीनिंग, केमिकल एनालिसिस, ह्यूमन बॉडी का सेल काउंट टेस्ट करते हैं और उसका विश्लेषण करते हैं

ये सैंपलिंग, टेस्टिंग, रिपोर्टिंग और डॉक्यूमेंटेशन करने में अपना महत्वपूर्ण योगदान देते हैं.आपको बता दें कि दो तरह के मेडिकल लेबोरेटरी वर्कर्स होते हैं- टेक्नीशियन और टेक्नोलॉजिस्ट्स

मेडिकल लैब टेक्नीशियन के कार्य –

  • माइक्रोबायोलॉजी
  • हेमाटोलॉजी
  • ब्लड बैंकिंग
  • इम्यूनोलॉजी
  • क्लिनिकिल केमिस्ट्री
  • मॉलिक्यूलर बायोलॉजी
  • साइटोटेक्नोलॉजी

इसे भी पढे :- माइक्रो बायोलॉजी मे करिअर कैसे बनाए

कोर्स और योग्यता Qualification and Course

ये बात तो ज़रूर याद रखे अगर आप मेडिकल से जुड़े किसी भी क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते है तो आपको बारहवीं की परीक्षा साइंस स्ट्रीम  ( फ़िज़िक्स , केमिस्ट्री , बॉयोलॉजी ) से  अनिवार्य है तभी आप मेडिकल से जुड़े किसी भी क्षेत्र में अपना करियर बना पाओगे।

बारहवीं करने के बाद आप मेडिकल लेब टेक्नीशियन से जुड़े निम्नलिखित डिग्री डिप्लोमा ,और सर्टिफ़िकेट कोर्स  कर सकते है।

CMLT ( Certificate Course in Medical Lab Technician ) इस कोर्स को आप दसवीं की परीक्षा पास करने के बाद कर सकते है यह  6 महीने का एक सर्टिफिकेट कोर्स है।

इसे भी जरूर पढे : – बायोमेडिकल इंजीनियरिंग क्या है

DMLT ( Diploma in Medical Lab Technician ) 2 Year इस कोर्स को करने के लिए आपको बारहवीं की परीक्षा साइंस स्ट्रीम से करना जरूरी है यह एक से दो वर्ष का डिप्लोमा कोर्स है।

B.Sc in Medical Lab Technician इस कोर्स में दाखिला लेने के लिए आपको बारहवीं की परीक्षा साइंस स्ट्रीम से पास  करना अनिवार्य है उसके बाद ही आप इस कोर्स में दाखिला ले सकते है यह तीन वर्ष का एक ग्रेजुएशन कोर्स है।

इसे भी पढे :- केमिस्ट्री मे करिअर कैसे बनाए

M. Sc in Medical Laboratory Technologist   इस कोर्स के दाखिला लेने के लिए आपको कम से कम  दसवीं या बारहवीं की परीक्षा पास करना अनिवार्य है उसके बाद आपके पास दो वर्ष का एसोसिएट ट्रेनिंग प्रोग्राम सर्टिफिकेट होना चाहिए छात्र इस प्रकार की ट्रेनिंग लेबोरेटरी कार्य के साथ साथ कर सकते है उसके बाद ही आप इस कोर्स में दाखिला ले पाओगे। आगे पढे