Image

लैला-मजनू, हीर-रांझा का मैं बहुत सम्मान करता हूँ उनके अंतिम समर्पण के लिए, पर ऐसी
कहानियाँ मुझे डराती भी है। मैं चाहता था, प्रेम की ऐसी कोई कहानी हो, जिसमे प्रेम
करनेवाले भले ही किसी मंज़िल तक न पहुँचे हों, फिर भी उनके बीच शुद्ध प्रेम शेष हो।
जिस कहानी में जिंदगी हो, प्यार भरी बातें हो, जो हमें सच्चे प्रेम की परिभाषा बताएं। हिन्दी
चैट उपन्यास ‛यू एंड मी – द अल्टिमेट ड्रीम ऑफ लव’ बिल्कुल वैसा ही उपन्यास है, जैसा मैं
पढ़ना चाहता था। यह सत्य कथा सच्चा प्रेम करने वालों में विश्वास जगाती है और उन्हें
अपने प्यार और अपनी जिम्मेदारी के साथ ख़ुशी से कैसे जीना यह भी सिखाती है। ऐसा प्रेम
जो हमें भावनात्मक रूप से, मानसिक रूप से तथा आध्यात्मिक रूप से विकसित करता है।

सुभाष यादव,
कमान्डेंट