Image

Christmas,A year ago, which seems so ,so long ago...
भारत एक त्योहार प्रधान देश है,  हर धर्म में न जाने कितने त्योहार होते हैं और हर त्योहार से न जाने कितने लोगों की रोजी-रोटी जुड़ी होती है। लेकिन  corona ने ना जाने कितने कलाकारों की वित्तीय स्थिति खराब कर दी।
आज बाजार से गुजरते हुए दुकानों को क्रिसमस के त्योहार पर थोड़ा बहुत सजा हुआ देखा, रेस्टोरेंट्स में वेटर Santa 🤶 की cap पहन कर घूम रहे थे।
पर जो main चीज थी वो missing थी।
जी हां, सैंटा क्लॉस missing था और मिसिंग थी बच्चों और बड़ों की चहचहाटे और मेले।
दिवाली के दौरान फिर भी थोड़ी चहल-पहल थी। पर क्रिसमस और न्यू ईयर पर जिस तरह की रौनक देखने को मिलती थी ,कल उसे ना देखकर अचानक मन में ख्याल आया कि कितने ही कलाकार कितने ही लोग जो सारा साल शायद इन त्योहारों के आने की उम्मीद में बैठे होते हैं कि उनकी आय का कुछ इस तरह का साधन हो जाता है जो उन्हें सारा साल सरवाइव करने में मदद देता है ,उनके घरों में भी सन्नाटा होगा ।
आप सब को क्रिसमस❄️☃️🎄 की और आने वाले नए साल🎇 की बहुत बधाइयां,,
इस उम्मीद के साथ  की इस महामारी से दुनिया को जल्दी मुक्ति मिले और बाजारों में, घरों में, चेहरों पर फिर वही रौनके लौट आए।
लौट आए वही जिंदगी की रोशनी ।
☃️Merry christmas 🎄and a very 🎇happy new year🎇 ahead...
🎊🎊🎊🎊🎊🎊🎊🎊